Wednesday, December 31

संशोधित शीर्ष टिप्पणीकार विजेट

हिन्दी ब्लॉग टिप्स द्वारा विकसित शीर्ष टिप्पणीकार विजेट के बारे में लंबे समय से कुछ साथियों की प्रतिक्रिया थी कि कई बार यह अपने आप काम करना बंद कर देता है। और कई बार इसमें टिप्पणियों की संख्या आगे नहीं बढ़ती। ज़ाकिर और रंजन साहब के अमूल्य सुझावों के बाद मैंने इस विजेट में कुछ संशोधन किए हैं और अब यह बिल्कुल ठीक तरह से काम कर रहा है। सभी साथियों से अनुरोध करता हूं कि अगर आप पहले इस विजेट को लगा चुके हैं तो उसे डिलीट कर नीचे दिए गए फॉर्म की मदद से दुबारा लगाएं। ज्यादा जानकारी यहां उपलब्ध है..




क्या आपको यह लेख पसंद आया? अगर हां, तो ...इस ब्लॉग के प्रशंसक बनिए ना !!

हिन्दी ब्लॉग टिप्स की हर नई जानकारी अपने मेल-बॉक्स में मुफ्त मंगाइए!!!!!!!!!!

Friday, December 26

ब्लॉग अपडेट करने का सबसे आसान तरीका (igoogle)

न कोई झंझट, न कोई तामझाम। अगर आप ब्लॉगर की साइट पर जाए बिना ही अपने ब्लॉग पर नई पोस्ट करना चाहते हैं तो उसका बेहद आसान सा तरीका भी मौजूद है। और यह तरीका है आईगूगल होमपेज के इस्तेमाल से ब्लॉगिंग। अगर आप आईगूगल के बारे में नहीं जानते, तो भी कोई बात नहीं। आप नीचे दिए गए तरीके से इसे आसानी से इस्तेमाल कर सकते हैं।

अगर आप ब्लॉग पोस्ट करने वाले गेजेट को आईगूगल पर जोड़ना चाहते हैं तो बस नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कीजिए।


यह आपको सीधे ही आईगूगल पर आपके ब्लॉग के गेजेट तक ले जाएगा। हां, इसे इस्तेमाल करने से पहले आप लॉग-इन करना नहीं भूलें। लॉग-इन करने के बाद आप इस पर न केवल अपने डेशबोर्ड के मनपसंद ब्लॉग को चुन सकते हैं, बल्कि यहां आपको शीर्षक, पोस्ट और लेबल लगाने की भी सुविधा मौजूद है।


वैसे आप एक और तरीके से ब्लॉगर का तामझाम वाला डेशबोर्ड खोले बिना अपनी पोस्ट प्रकाशित कर सकते हैं। केवल अपना ई-मेल अकाउंट का इस्तेमाल कर। इसकी जानकारी के लिए यह पोस्ट देखें।

क्या आपको यह लेख पसंद आया? अगर हां, तो ...इस ब्लॉग के प्रशंसक बनिए ना !!

हिन्दी ब्लॉग टिप्स की हर नई जानकारी अपने मेल-बॉक्स में मुफ्त मंगाइए!!!!!!!!!!

Wednesday, December 24

महिला ब्लॉग शक्ति को सलाम!

हिन्दी ब्लॉग जगत में महिला चिट्ठाकारों के कदम तेजी से बढ़ रहे हैं। साहित्य ही नहीं, समसामयिक और तकनीकी विषयों पर भी वे ब्लॉग जगत में अपनी धमाकेदार उपस्थिति दर्ज करा रही हैं। पिछले दिनों हिन्दी ब्लॉग संसार में छाईं ऐसी ही छह प्रबुद्ध महिला चिट्ठाकारों से चर्चा का सौभाग्य मिला। इस चर्चा को मैंने कलमबद्ध किया और मेरी इस प्रस्तुति को राजस्थान पत्रिका ने आज (बुधवार, 24 दिसंबर 2008) के अंक में प्रकाशित किया है।

आप इसे यहां पढ़ सकते हैं। बड़े आकार में देखने के लिए नीचे दी गई तस्वीर पर क्लिक करें।



इस चर्चा में छह अलग क्षेत्रों से जुड़ी महिला चिट्ठाकारों को शामिल किया गया है, इसलिए कुछ अन्य प्रबुद्ध महिला चिट्ठाकारों के नाम छूटना लाजिमी है। जिन ब्लॉगर्स को यहां मैं जगह नहीं दे पाया, उनसे क्षमा चाहते हुए उनके योगदान को भी सलाम करता हूं।

क्या आपको यह लेख पसंद आया? अगर हां, तो ...इस ब्लॉग के प्रशंसक बनिए ना !!

हिन्दी ब्लॉग टिप्स की हर नई जानकारी अपने मेल-बॉक्स में मुफ्त मंगाइए!!!!!!!!!!

Monday, December 22

ब्लॉग पर संगीत जोड़ने का सबसे आसान तरीका


जो लोग ब्लॉग पर संगीत सुनना और सुनाना पसंद करते हैं, उनके लिए आसान सा तरीका। बस पसंद के गाने ढूंढ़िए, अपनी प्लेलिस्ट बनाइए और उन्हें एक क्लिक से अपने ब्लॉग पर लगा लीजिए। कुछ इस तरह-



क्या आप भी ऐसी ही लिस्ट अपने ब्लॉग की साइडबार में लगाना चाहते हैं। अगर हां, तो iLike वेबसाइट के इस पेज पर जाइए। प्लेलिस्ट को नाम दीजिए। गाने ढूंढ़िए। उन्हें जमाइए। इसके बाद जैसे ही आप Done पर क्लिक करेंगे, आपको प्लेलिस्ट का प्रिव्यू दिखाई देगा। अगर यह प्रिव्यू आपको अपने ब्लॉग की साइडबार के लिए ठीक लग रहा है तो इसे आप एक क्लिक पर अपने ब्लॉग की साइडबार में जोड़ सकते हैं।

ब्लॉग पर इस प्लेलिस्ट का फायदा यह है कि आपको किसी तरह के कोड से जुड़ी माथापच्ची नहीं करनी पड़ती। बस क्लिक करते जाइए और यह सीधा ही ब्लॉग की साइडबार में जुड़ जाता है।

इसकी कमी यह है कि फिलहाल इस पर हिन्दी गानों का भंडार काफी कम है। लेकिन उम्मीद है कि इसमें गाने लगातार जुड़ते जाएंगे और आपको अपनी पसंद के गाने मिलते रहेंगे।

अगर आपकी पसंद का कोई गाना आप यहां नहीं ढूंढ़ पा रहे हैं तो ब्लॉग पर मनपसंद संगीत जोड़ने के लिए यह पोस्ट पढ़ सकते हैं।

क्या आपको यह लेख पसंद आया? अगर हां, तो ...इस ब्लॉग के प्रशंसक बनिए ना !!

हिन्दी ब्लॉग टिप्स की हर नई जानकारी अपने मेल-बॉक्स में मुफ्त मंगाइए!!!!!!!!!!

Thursday, December 18

आप क्या कहते हैं ऐसे खेलों पर


इन दिनों बुश और उन पर फेंका गया जूता काफी चर्चा में हैं। हर अखबार में और हर टीवी चैनल पर। और लोकप्रियता का आलम तो यह है कि उन पर ऑनलाइन कंप्यूटर गेम भी बन गए हैं। बुश पर जूते फेंकों और प्वॉइंट्स बटोरों। किसी के लिए यह भावनाओं को दिखाने का तरीका हो सकता है, किसी के लिए खेल और किसी के लिए पैसे बटोरने का साधन। आप खुद इन गेम्स को देखिए-


http://bushbash.flashgressive.de/


http://www.sockandawe.com/


मैं इस पर अपनी कोई राय नहीं दे रहा। पर यह जरूर चाहता हूं कि आप अपनी राय दें। क्या इस तरह के कंप्यूटर गेम इंटरनेट पर होने चाहिए?

क्या आपको यह लेख पसंद आया? अगर हां, तो ...इस ब्लॉग के प्रशंसक बनिए ना !!

हिन्दी ब्लॉग टिप्स की हर नई जानकारी अपने मेल-बॉक्स में मुफ्त मंगाइए!!!!!!!!!!

Wednesday, December 17

अंग्रेजी ब्लॉगिंग में इनाम बंट रहे हैं.. कब फिरेंगे हिन्दी जगत के दिन?


इसमें कोई दोराय नहीं कि हिन्दी ब्लॉगिंग में तेजी से विकास हो रहा है। ब्लॉगर और पाठकों की दिन-ब-दिन बढ़ती संख्या इसका अच्छा प्रमाण है। फिर भी आज कोई भी हिन्दी ब्लॉगर प्रोफेशनल ब्लॉगर बनने की नहीं सोच सकता। शायद इस बात पर आप भी मुझसे सहमत होंगे। कारण साफ है कि हिन्दी ब्लॉगिंग से कमाई फिलहाल न के बराबर ही है। गूगल का एडसेंस कार्यक्रम भी हिन्दी भाषा से बेरुखी बनाए है।

अंग्रेजी ब्लॉगिंग की बात करें तो कई प्रतिष्ठित भारतीय ब्लॉगर ऐसे हैं जो अपने ब्लॉग से अच्छा पैसा कमा रहे हैं। तकनीकी लेखकों में सबसे प्रमुख है अमित अग्रवाल जी, जो डिजिटल इंस्पिरेशन नामक ब्लॉग संचालित करते हैं। इस ब्लॉग की सफलता का आलम यह है कि इसे हर महीने बीस लाख विजिट मिलते हैं और 33000 से ज्यादा पाठक इसे फीड रीडर या ई-मेल पर पढ़ते हैं। यह ब्लॉग इतना धनवान है कि इसमें सुधार के लिए सुझाव के बदले यह हजारों के इनाम बांट रहा है और सबसे बड़ी बात एचपी जैसी कंपनियां इसकी प्रायोजक हैं।


क्या कहा, आप भी इनाम जीतना चाहते हैं? तो जीतिए। आपको बस यह एक आसान सा फॉर्म भरना है। अगर आप भाग्यशाली हुए तो डिजिटल इंस्पिरेशन आपको कंप्यूटर, प्रिंटर और सॉफ्टवेयर समेत कई पुरस्कार दे सकता है। पर याद रखें इस कॉन्टेस्ट में शामिल होने की अंतिम तारीख 20 दिसंबर, 2008 है और ज्यादा जानकारी यहां है।

फोटोग्राफी ऑफ द इयर कॉन्टेस्ट

अगर आप फोटोग्राफी में रुचि रखते हैं तो फोटोग्राफी कॉर्नर वेबसाइट पर आपके लिए शानदार प्रतियोगिता है। भाग लेने के नियम यहां दिए गए हैं। इस प्रतियोगिता में 11500 डॉलर के इनाम जीते जा सकते हैं। शामिल होने की आखिरी तारीख 31 दिसंबर 2008 है।

उम्मीद है कि एक दिन हिन्दी ब्लॉग जगत भी समृद्ध होगा।

क्या आपको यह लेख पसंद आया? अगर हां, तो ...इस ब्लॉग के प्रशंसक बनिए ना !!

हिन्दी ब्लॉग टिप्स की हर नई जानकारी अपने मेल-बॉक्स में मुफ्त मंगाइए!!!!!!!!!!

Saturday, December 13

कितनी पोस्ट, कितनी टिप्पणियां

Stats as on dec 13th, 2008क्या आप जानते हैं कि आपके ब्लॉग पर अब तक आप कितनी पोस्ट कर चुके हैं? आप कहेंगे कि यह तो डैशबोर्ड पर ही लिखा होता है। चलिए दूसरा सवाल- क्या आप जानते हैं कि आपके ब्लॉग पर कुल कितनी टिप्पणियां हैं? अब आप कहेंगे कि यह नहीं पता। क्या आप नहीं चाहते कि आप सभी को बता दें कि आपके ब्लॉग पर कुल कितनी पोस्ट हैं और अब तक कुल कितनी टिप्पणियां आपके ब्लॉग की शोभा बढ़ा चुकी हैं। देखिए हिन्दी ब्लॉग टिप्स की पोस्ट और टिप्पणियों की संख्या यहां साइडबार में लेखा-जोखा के रूप में दिखाई दे रही है। आप अपने ब्लॉग की जानकारी अपने ब्लॉग की साइडबार में लगा सकते हैं।

इसके लिए आप नीचे दिए गए कोड को लेआउट>>एड ए विजेट >>एचटीएमएल\जावास्क्रिप्ट विंडो में पेस्ट कर दीजिए। याद रखें कि इसमें दो जगह आपके ब्लॉग का पता बदलना नहीं भूले।

<script style="text/javascript">



function numberOfPosts(json) {

document.write('कुल प्रविष्ठियां: <b>' + json.feed.openSearch$totalResults.$t + '</b><br>');

}



function numberOfComments(json) {

document.write('कुल टिप्पणियां: <b>' + json.feed.openSearch$totalResults.$t + '</b><br>');

}



</script>



<ul><li><script src="http://आपका-ब्लॉग.blogspot.com/feeds/posts/default?alt=json-in-script&callback=numberOfPosts"></script></li>



<li><script src="http://आपका-ब्लॉग.blogspot.com/feeds/comments/default?alt=json-in-script&callback=numberOfComments"></script></li></ul>



<span style="font-size:75%;"><a href="http://tips-hindi.blogspot.com/2008/12/blog-statistics.html" target="_blank">विजेट आपके ब्लॉग पर</a></span>


उम्मीद है कि यह आपके ब्लॉग पर ठीक से काम कर रहा होगा।

क्या आपको यह लेख पसंद आया? अगर हां, तो ...इस ब्लॉग के प्रशंसक बनिए ना !!

हिन्दी ब्लॉग टिप्स की हर नई जानकारी अपने मेल-बॉक्स में मुफ्त मंगाइए!!!!!!!!!!

Friday, December 12

PC की speed बढ़ाने के सरल नुस्खे

क्या आपका कंप्यूटर कछुए की चाल चलता है? यूएई से अल्पना जी ने कंप्यूटर की रफ्तार बढ़ाने की जानकारी चाही है। वैसे तो इसके काफी तरीके हैं, लेकिन मैं यहां बात उन साधारण तरीकों की ही कर रहा हूं, जिन्हें अपनाने में न तो ज्यादा तकनीकी कुशलता चाहिए और न ही इन्हें अपनाने से कंप्यूटर पर किसी तरह का साइड इफेक्ट होने का खतरा है। ज्यादातर कंप्यूटर्स में माइक्रोसॉफ्ट का ऑपरेटिंग सिस्टम इस्तेमाल होता है, इसलिए यहां रफ्तार बढ़ाने के उन तरीकों को पेश किया जा रहा है, जो माइक्रोसॉफ्ट द्वारा सुझाए गए हैं-

1. डिस्क स्पेस को फ्री कीजिए

डिस्क क्लीनअप टूल्स का इस्तेमाल कर आप अपने कंप्यूटर के प्रदर्शन को सुधार सकते हैं। इसका तरीका इस तरह है-

- Start पर क्लिक कीजिए। उसके बाद All Programs>> Accessories>> System Tools>> Disk Cleanup में जाइए। इसके बाद उन डायरेक्ट्रीज को चुनिए, जिन्हें आपको क्लीन करना है।



- इसके बाद Disk Cleanup for डायलॉग बॉक्स में Files to delete लिस्ट को देखिए।



- यहां से वे फाइल चुन लीजिए, जिनकी आपको जरूरत नहीं। फाइल्स की समझ नहीं होने पर केवल टेम्परेरी फाइल्स और रिसाइकल बिन को चुन लीजिए। वैसे ज्यादातर यहां वे ही फाइल्स दिखाई देती हैं, जो महत्वपूर्ण नहीं होतीं।

- OK पर क्लिक करते ही डिस्क की सफाई शुरू हो जाएगी और इसके बाद आपके कंप्यूटर का प्रदर्शन थोड़ा सुधर जाएगा।

2. Data access की रफ्तार बढ़ाइए

कई बार डिस्क फ्रेगमेंटेशन आपके कंप्यूटर की रफ्तार को धीमा कर देता है। तो इसे ठीक करने के लिए डिस्क डीफ्रेगमेंटर को रन कीजिए।

- Start पर क्लिक कीजिए। उसके बाद All Programs >> Accessories>> System Tools>> Disk Defragmenter में जाइए।



- डिस्क डीफ्रेगमेंटर को रन करने के लिए Analyze पर क्लिक कीजिए। इसके बाद डिस्क चुन लीजिए जिन्हें आप डीफ्रेगमेंट करना चाहते हैं।

- यहां आपको सूचना मिलेगी कि आपको डिस्क को डीफ्रेगमेंट करने की जरूरत है या नहीं। अगर जरूरत हो तो इसे डीफ्रेगमेंट कर दीजिए। इससे आपके कंप्यूटर की रफ्तार बढ़ जाएगी।

3. Disk errors को ढूंढ़ कर उन्हें दूर कीजिए।

डिस्क की त्रुटियां भी आपके कंप्यूटर की रफ्तार को सुस्त बनाने के लिए जिम्मेदार हो सकती है। जानते हैं इन्हें ढूंढ़कर दूर करने का तरीका-

- खुली हुई सभी फाइल्स बंद कर दीजिए।

- Start पर क्लिक कीजिए और उसके बाद My Computer पर।

- My Computer में आप जिस डिस्क से बैड सेक्टर दूर करना चाहते हैं, उस पर राइट क्लिक कीजिए और Properties में जाइए।

- Properties डायलॉग बॉक्स में Tools टैब पर क्लिक कीजिए।

- Check Now बटन पर क्लिक कीजिए।

- यहां Check disk डायलॉग बॉक्स खुलेगा। इसमें Scan for and attempt recovery of bad sectors सलेक्ट कीजिए और Start पर क्लिक कर दीजिए।




अगर कोई बैड सेक्टर मिलता है तो उसे fix कर दीजिए।

4. कंप्यूटर से Spyware दूर कीजिए।

स्पायवेयर वे खास प्रोग्राम होते हैं जो इंटरनेट के जरिए आपके कंप्यूटर में बिना आपकी जानकारी के घुस सकते हैं और आपकी निजी गोपनीय सूचनाओं को चुराकर दूसरों के पास भेज सकते हैं। साथ ही ये आपके कंप्यूटर और इंटरनेट की रफ्तार को भी कम कर देते हैं। इनसे बचने के लिए आपको माइक्रोसॉफ्ट विंडोज डिफेंडर की मदद लेनी चाहिए। विंडोज विस्टा तो इन्हें शामिल ही किया गया है, और विंडोज एक्सपी के लिए यह मुफ्त में उपलब्ध है।

5 ReadyBoost का इस्तेमाल करें।

यह सुविधा केवल विंडोज विस्टा का इस्तेमाल करने वालों के लिए ही उपलब्ध है। यह बिल्कुल नया कंसेप्ट है। इसमें आपके कंप्यूटर के साथ बिना किसी बाहरी उपकरण के फ्लेश मेमोरी जोड़ दी जाती है और आपके कंप्यूटर की स्पीड बढ़ जाती है। इसकी और जानकारी के लिए यहां क्लिक करें।

एडवांस वीडियो ट्यूटोरियल

अगर आपने ऊपर दिए गए पांचों तरीके आजमा लिए हैं और फिर भी आपके कंप्यूटर की रफ्तार आपके मनमाफिक नहीं हुई है तो कुछ एडवांस तरीके भी हैं। इन्हें यहां वीडियो ट्यूटोरियल के रूप में पेश किया जा रहा है। यूट्यूब पर मैंने कई वीडियो देखे और उनमें से मुझे यह वीडियो सर्वश्रेष्ठ लगा। इसे देखकर आसानी से इन तरीकों को आजमाया जा सकता है-



और अब एक टोटका

इसे टोटका ही कहेंगे कि भला डेस्कटॉप पर एक साधारण सी नोटपेड फाइल को सेव कर कंप्यूटर की स्पीड कैसे बढ़ सकती है। लेकिन फिर भी इस टोटके को आजमाने में क्या बुराई है। देखिए यह वीडियो और इसमें दिखाए गए तरीके से इसे डेस्कटॉप पर सेव कीजिए।



नोट- वैसे तो सभी तरीके भली-भांति जांच लिए गए है, लेकिन फिर भी अवांछित परिणाम के लिए हिन्दी ब्लॉग टिप्स जिम्मेदार नहीं है।

क्या आपको यह लेख पसंद आया? अगर हां, तो ...इस ब्लॉग के प्रशंसक बनिए ना !!

हिन्दी ब्लॉग टिप्स की हर नई जानकारी अपने मेल-बॉक्स में मुफ्त मंगाइए!!!!!!!!!!

Thursday, December 11

ब्लॉग पर traffic बढ़ाएं-5

हिन्दी ब्लॉग टिप्स पर आज 'ब्लॉग पर traffic बढ़ाएं' सिरीज की पांचवीं और अंतिम कड़ी पेश की जा रही है। इस सिरीज में जो तरीके बताए जा रहे हैं वे भी आपके ब्लॉग तक विजिटर पहुंचाने में काफी मददगार साबित होंगे। उम्मीद है कि आपने इससे पहले बताए गए दस तरीके आजमा लिए होंगे। अगर आपने उन्हें नहीं पढ़ा है तो कृपया कड़ी-1, कड़ी-2 , कड़ी-3 और कड़ी-4 देखें। अब बात बाकी के तरीकों की-

11. ब्लॉग डायरेक्ट्री में PING कीजिए

PING नाम सुनकर यह मत समझिए कि यह कोई तकनीकी बला हैं और आप इसे नहीं कर सकते। आप बस एक बटन पर क्लिक कर ऐसा आसानी से कर सकते हैं। पहले PING के बारे में थोड़ा सा जान लीजिए। इसके माध्यम से इंटरनेट पर मौजूद विभिन्न ब्लॉग और वेब निर्देशिकाओं को यह पता चलता है कि आपने ब्लॉग को अपडेट किया है। बस आपको एक बार इन डायरेक्ट्रीज यानी निर्देशिकाओं तक पहुंचने की देर है। वैसे तो इनका आंकड़ा चालीस से भी ऊपर है, लेकिन इंटरनेट पर ऐसी कुछ वेबसाइट्स हैं, जो एक ही सूचना पत्र के माध्यम से सभी निर्देशिकाओं में आपके ब्लॉग को PING कर देती हैं। PING के लिए कुछ अच्छी वेबसाइट्स हैं-

पिंग

पिंगोट

पिंगोमेटिक

ईजीपिंगर

आप इनमें से किसी भी वेबसाइट पर जाकर सभी निर्देशिकाओं में अपने ब्लॉग को शुमार कर दीजिए।

यहां आपसे ब्लॉग की आरएसएस या एक्सएमएल फीड के बारे में भी पूछा जा सकता है।

आरएसएस फीड है- http://आपकाब्लॉग.blogspot.com/feeds/posts/default?alt=rss
एक्सएमएल फीड है- http://आपकाब्लॉग.blogspot.com/atom.xml


अगर आपको ऊपर वेबसाइटों पर पिंग करना झंझट लग रहा है तो कम से कम गूगल और टेक्नोरेटी पर तो पिंग अवश्य कर लें।

अब आपका सवाल होगा कि पिंग करने से फायदा क्या होगा। इससे आपको बैकलिंक मिलेंगे, जो सर्च इंजनों में आपकी साइट को ऊपर पहुंचाएंगे और आपकी पेजरैंक बढ़ाएंगे।

12. ई-मेल सिग्नेचर का प्रयोग करें

अगर आप अपने ब्लॉग को उन लोगों तक भी पहुंचाना चाहते हैं, जिनके जरिए आप ई-मेल से संपर्क में रहते हैं। अगर उन्हें मेल भेजकर यह कहेंगे कि मेरा ब्लॉग पढ़िए, तो यह न तो उन्हें अच्छा लगेगा और न ही आपको। इसका एक बेहतर तरीका ई-मेल सिग्नेचर है। इससे आप अपने साथियों से सीधे ही ब्लॉग पढ़ने की गुजारिश भी नहीं करते और आपके ब्लॉग की जानकारी भी उन तक पहुंच जाती है। ई-मेल सिग्नेचर का अर्थ है ई-मेल के अंत में लिखी जानी वाली आपकी पहचान। आपके नाम के नीचे आप अपने ब्लॉग का पता लिखकर उसे लिंक दे दीजिए। इसे सैटिंग्स में जाकर ई-मेल सिग्नेचर के रूप में सेव कर दीजिए। इसके बाद आपके द्वारा भेजी जाने वाली हर ई-मेल के साथ आपके ब्लॉग का पता खुद-ब-खुद जाएगा और आपका साथी उस पर क्लिक कर उसे देख सकेगा।


13. सोशल नेटवर्किंग साइट्स और चैटिंग प्रोफाइल में ब्लॉग की जानकारी दीजिए

अगर आपका ऑरकुट, फेसबुक या किसी दूसरी सोशल नेटवर्किंग साइट में अकाउंट है तो आप अपने प्रोफाइल में वेबपेज के रूप में अपना ब्लॉग हाइलाइट कीजिए। आपको सर्च इंजनों में ढूंढ़ने वाले लोग आपके ब्लॉग तक भी जाएंगे और ट्रेफिक बढ़ेगा। ब्लॉग की नई अपडेट्स को अपने मित्रों तक पहुंचाने के लिए आप ट्विटर का प्रयोग भी कर सकते हैं। इसके अलावा जी-मेल, जी-टॉक जैसी कुछ चैट सेवाओं में कस्टम प्रोफाइल दिखाने की सुविधा है। आप इनमें अपनी नई पोस्ट की जानकारी देकर साथियों को अपने ब्लॉग तक खींच सकते हैं। मैं भी कुछ साथियों की नवीनतम पोस्ट इसी माध्यम से पढ़ता हूं।

14. लोकप्रिय ब्लॉग की पोस्ट को लिंक देने में उदार रहिए

आखिर में एक ऐसा तरीका, जो आपके ब्लॉग पर दूसरे ब्लॉग के ट्रेफिक को आसानी से ला सकता है। यह तरीका है लोकप्रिय ब्लॉग की पोस्ट को अपनी पोस्ट के साथ लिंक देने में कंजूसी नहीं करना। मान लीजिए आपको हिन्दी ब्लॉग टिप्स की यह पोस्ट पसंद आई या इस पोस्ट को लेकर आपका कुछ और नजरिया है। अगर आप अपनी पोस्ट में हिन्दी ब्लॉग टिप्स की इस पोस्ट का लिंक दे देते हैं तो आपके ब्लॉग से पाठक हिन्दी ब्लॉग टिप्स तक तो पहुंचेंगे ही, साथ ही हिन्दी ब्लॉग टिप्स की इस पोस्ट के सबसे नीचे आपकी पोस्ट का शीर्षक भी दिखाई देगा।

अब इस पोस्ट को पढ़ने वाले हिन्दी ब्लॉग टिप्स के पाठक आपकी पोस्ट तक भी पहुंच सकते हैं। परंतु लिंक तभी दें, जब आपकी पोस्ट उस लिंक से किसी न किसी तरह से संबंधित हो। फिजूल लिंक से पाठक आएगा तो भी खुद को छला हुआ पाएगा और आपके ब्लॉग से विमुख हो जाएगा। पोस्ट को लिंक देने का तरीका यहां है।

इसी के साथ यह शृंखला पूरी हुई। उम्मीद है कि आपको यह पसंद आई होगी।

क्या आपको यह लेख पसंद आया? अगर हां, तो ...इस ब्लॉग के प्रशंसक बनिए ना !!

हिन्दी ब्लॉग टिप्स की हर नई जानकारी अपने मेल-बॉक्स में मुफ्त मंगाइए!!!!!!!!!!

Saturday, December 6

ब्लॉग पर traffic बढ़ाएं-4

हिन्दी ब्लॉग टिप्स हाजिर है 'ब्लॉग पर traffic बढ़ाएं' सिरीज की चौथी कड़ी के साथ। इस कड़ी में आपको ऐसे तरीके सिखाए जाएंगे, जो आपके ब्लॉग को गूगल और याहू सर्च इंजनों का खास मेहमान बना देंगे। लेकिन इन तरीकों को जानने से पहले आप ज़रा कड़ी-1, कड़ी-2 और कड़ी-3 को तो पढ़ लीजिए। इन कड़ियों में आपको 8 तरीके बताए जा चुके हैं। आज जानते हैं तरीका 9 और 10-

9. प्रमुख सर्च इंजनों में अपने ब्लॉग का साइटमैप जमा कीजिए


वैसे तो ब्लॉगर ब्लॉग आपको सुविधा देता है कि आपका ब्लॉग स्वतः ही सभी अच्छे सर्च इंजनों में जमा हो जाए। लेकिन यह तरीका तो साधारण तरीका हुआ। इससे आपका ब्लॉग इन सर्च इंजनों में शुमार तो रहता है, लेकिन इसे विशेष दर्जा नहीं मिलता। अगर आप इन तरीकों को अपनाएंगे तो गूगल और याहू जैसे प्रमुख सर्च इंजनों के आप चहेते हो जाएंगे।

गूगल में साइटमैंप सबमिट करें

याहू में साइटमैप सबमिट करें

ऐसा करने का फायदा यह है कि आपको आपको अपने ब्लॉग से जुड़ी समस्त रिपोर्ट भी मिलती रहती है कि आपके किस पेज में क्या एरर है या आपके ब्लॉग को किस सर्च वर्ड से सबसे ज्यादा ढूंढ़ा जाता है। तो याहू और गूगल में अपना साइटमैप अवश्य शामिल करें।

10. चैट बॉक्स लगाएं
हालांकि कोई भी पाठक आपके साथ टिप्पणियों के जरिए संपर्क में रह सकता है, लेकिन ज्यादातर टिप्पणी का इस्तेमाल उस पोस्ट की सामग्री के विश्लेषण या समालोचना के लिए ही होता है। इसलिए जरूरी है कि पाठक को ब्लॉग की साइडबार में ऐसा मंच दिया जाए, जिससे वह आपसे सीधे बिना किसी रुकावट के संपर्क कर सके। इस लिहाज से इंटरनेट पर दो अच्छे विकल्प मौजूद है।

सी-बॉक्स लगाइए यह विजेट पाठकों के साथ संपर्क में रहने का सबसे आसान तरीका उपलब्ध कराता है। आप इसे हिन्दी ब्लॉग टिप्स की साइडबार में हैल्पलाइन के रूप में देख सकत हैं। अगर आप भी अपने ब्लॉग पर इसे लगाना चाहते हैं तो यहां क्लिक कर अपना सी-बॉक्स कोड ले लें।

लाइव चैट विजेट सी-बॉक्स की एक ही कमजोरी है और वह यह कि यहां लाइव चैट नहीं हो सकती। अगर आप संप्रेषण बढ़ाने के लिए अपने ब्लॉग पर ही लाइव चैट की सुविधा अपने पाठकों को देना चाहते हैं तो आप इस लाइव चैट विजेट का इस्तेमाल कर सकते हैं।

अगली पोस्ट में भी ब्लॉग पर ट्रेफिक बढ़ाने के कुछ तरीके होंगे।

क्रमशः
ब्लॉग पर ट्रेफिक बढ़ाएं-5


क्या आपको यह लेख पसंद आया? अगर हां, तो ...इस ब्लॉग के प्रशंसक बनिए ना !!

हिन्दी ब्लॉग टिप्स की हर नई जानकारी अपने मेल-बॉक्स में मुफ्त मंगाइए!!!!!!!!!!

Yahoo! में ब्लॉग का Sitemap दर्ज कीजिए


अगर पाठक आपके ब्लॉग को याहू सर्च इंजन के जरिए खोजें तो वहां भी तो आपका ब्लॉग मौजूद होना चाहिए ना। तो इसके लिए आपको अपने ब्लॉग का साइटमैप याहू पर सबमिट करना होगा। यह काम ज्यादा मुश्किल नहीं है और अगर आप गूगल पर साइटमैप सबमिट कर चुके हैं, तब तो यह चुटकियों का काम है। जानते हैं यह आसान सा तरीका-


1. याहू साइट एक्सप्लोरर पेज पर जाइए और लॉग-इन कीजिए।

2. Add my Site में अपने ब्लॉग का पता लिखिए और बटन पर क्लिक कीजिए। (पूरा पता, जैसे- http://tips-hindi.blogspot.com)

3. अगले पेज पर Submit Site Feed विकल्प चुनिए।

4. इसमें आप http://YOURBLOGNAME.blogspot.com/rss.xml या
http://YOURBLOGNAME.blogspot.com/atom.xml पता भरिए (दोनों में से कोई भी एक)। यह दरअसल ब्लॉगर की फीड का पता है। अपने ब्लॉग का नाम बदलना न भूलें।



5. इसके बाद आपको अपने ब्लॉग को ऑथेंटिकेट करना होगा। जैसे ही आप अपने ब्लॉग के नाम पर क्लिक करेंगे, Authentication बटन दिखाई देगा। इसे क्लिक करने पर आपसे वेरिफिकेशन मेथड के बारे मे पूछा जाएगा।



6. आप इसमें By adding a META tag to my home page. विकल्प चुनें। (एचटीएमएल फाइल को अपलोड करने वाला मेथड blogspot डोमेन के लिए लागू नहीं है)

7. यहां आपको इस तरह का एक कोड मिलेगा

<META name="y_key" content="7323b7b3497e0c80"/>
(अगर यहां अंत में स्लैश नहीं लगा हो तो कृपया लगा लें।)



अब यहां आपका साइटमैप सबमिट हो चुका है। और इसके बाद आप याहू सर्च इंजन के खास मेहमान बन जाएंगे। यानी अब याहू सर्च इंजन आपके ब्लॉग की हर गतिविधि पर नजर रखेगा। तो जरूर अपने ब्लॉग का साइटमैप याहू में दर्ज कीजिए।

क्या आपको यह लेख पसंद आया? अगर हां, तो ...इस ब्लॉग के प्रशंसक बनिए ना !!

हिन्दी ब्लॉग टिप्स की हर नई जानकारी अपने मेल-बॉक्स में मुफ्त मंगाइए!!!!!!!!!!

गूगल में ब्लॉग का साइटमैप दर्ज कीजिए


क्या आप चाहते हैं कि आपका ब्लॉग गूगल सर्च इंजन में और ज्यादा ऊपर आए। इसका हर पेज गूगल की लिस्टिंग में शामिल हो और गूगल समय-समय पर आपके ब्लॉग को पढ़कर नई जानकारियां सर्च इंजन को उपलब्ध कराए। तब तो आपको गूगल वेबमास्टर पर अपने ब्लॉग का साइटमैप सबमिट करना ही होगा। यह काम ज्यादा मुश्किल नहीं है। जानिए यह आसान सा तरीका-


1. गूगल वेबमास्टर साइट पर जाइए और लॉग-इन कीजिए।

2. Add Site में अपने ब्लॉग का पता लिखिए और बटन पर क्लिक कीजिए। (पूरा पता, जैसे- http://tips-hindi.blogspot.com)




3. इसके बाद आपको अपने ब्लॉग को verify करना होगा। जैसे ही आप Verify your site पर क्लिक करेंगे, आपसे वेरिफिकेशन मेथड के बारे मे पूछा जाएगा।



4. आप इसमें Add a Meta Tag विकल्प चुनें। (एचटीएमएल फाइल को अपलोड करने वाला मेथड blogspot डोमेन के लिए लागू नहीं है)



5. यहां आपको इस तरह का एक कोड मिलेगा

<meta name="verify-v1" content="TgM1aS/bipJCqG7jOodu0Oq6B0NMK/UsR2wtQP8XBTQ=" />



अब आप अपने ब्लॉग के टेम्पलेट>>एडिट एचटीएमएल में जाइए। वहां आपको मिले मेटा टैग को ऊपर <head> के तुरंत बाद कॉपी कर दीजिए। टेम्पलेट को सेव कर दीजिए। इस तरह से यहां आपका ब्लॉग वेरिफाई हो जाएगा।

6. अब आपको अपना साइटमैप सबमिट करना होगा। इसके लिए साइटमैप टैब पर जाइए।

7. अब यहां आप इनमें से कोई एक पता भर दीजिए। http://YOURBLOGNAME.blogspot.com/rss.xml या
http://YOURBLOGNAME.blogspot.com/atom.xml



जैसे ही आप Submit Sitemap पर क्लिक करेंगे, आपका साइटमैप सबमिट हो जाएगा। और इसके बाद आप गूगल सर्च इंजन के खास मेहमान बन जाएंगे। यानी अब गूगल सर्च इंजन आपके ब्लॉग की हर गतिविधि पर नजर रखेगा। रिपोर्ट में बताएगा कि इसने आपकी साइट में क्या महसूस किया। सर्च इंजन में आपके ब्लॉग की स्थिति क्या है, या आपके साइटमैप में कुछ गड़बड़ तो नहीं है।

तो जरूर अपने ब्लॉग का साइटमैप गूगल वेबमास्टर में सबमिट कीजिए।

क्या आपको यह लेख पसंद आया? अगर हां, तो ...इस ब्लॉग के प्रशंसक बनिए ना !!

हिन्दी ब्लॉग टिप्स की हर नई जानकारी अपने मेल-बॉक्स में मुफ्त मंगाइए!!!!!!!!!!

Tuesday, December 2

ब्लॉग पर traffic बढ़ाएं-3

पिछली दो कड़ियो (कड़ी-1, कड़ी-2) में आपको अपने ब्लॉग पर ट्रेफिक बढ़ाने के 6 तरीके बताए गए थे। अगर आपने अभी तक उन्हें नहीं आजमाया है तो पहले उन्हें देखिए। उसके बाद आपके लिए हैं तरीका नं- 7 और 8.. और हां अगली कड़ी में आपको सर्च इंजनों में आपके ब्लॉग को ऊपर लाने के तरीके बताए जाएंगे।

7. फीड ओपन करें
rss अगर आप आरएसएस फीड या एक्सएमएल फीड के बारे में ज्यादा नहीं जानते, तो कोई बात नहीं। आपको इसके विषय में तकनीकी ज्ञान लेने की जरूरत नहीं। बस इतना जान लीजिए कि यह फीड दूसरे पाठकों को आपके ब्लॉग पर आए बिना ही दूसरी जगह आपकी पोस्ट पढ़ने में मदद कर सकती है। जैसे किसी फीड रीडर में। अगर आपने इस फीड का ऑप्शन अपने ब्लॉग में दिया है, तो पाठक इसे कहीं भी पढ़ने के लिए स्वतंत्र हो जाते हैं। इसके लिए दो काम करने होंगे-

फीड ओपन करें- वैसे तो ब्लॉग की डिफॉल्ट सैटिंग्स में यह ऑप्शन चालू ही होता है। लेकिन फिर भी इसे एक बार जरूर जांच ले कि आपने फीड को फुल पर सैट किया है या नहीं। तरीका इस तस्वीर में है-



फीड गेजेट लगाएं- इसके लिए आप टेम्पलेट सैटिंग में एड ए गेजेट चुनें और उसके बाद फीड ऑप्शन को ब्लॉग पर लगा लें। तरीका इस तस्वीर में दिया गया है-



यह ब्लॉग की साइडबार में ऐसा दिखता है-



इसकी मदद से आपके ब्लॉग की सामग्री को गूगल, ब्लॉगलाइंस, नेटवाइब्स, याहू जैसे फीड रीडर्स या पर्सनलाइज्ड होमपेज में पढ़ने में मदद मिलती है।

8. ईमानदार टिप्पणियां देते रहें

ब्लॉग पर ट्रेफिक बढ़ाने में यह बिंदु भी काफी अहम है। कारण यह है कि अभी तक हिन्दी ब्लॉग जगत का ज्यादा विस्तार नहीं हुआ है। संकलकों के मुताबिक अभी तक महज पांच-छह हजार हिन्दी ब्लॉग ही अस्तित्व में हैं और ज्यादातर हर पाठक अपना ब्लॉग भी लिखता है। यानी अगर आप किसी ब्लॉग पर ईमानदार टिप्पणी कर रहे हैं तो पूरी संभावना है कि उस ब्लॉग का लेखक आपके ब्लॉग तक पहुंचेगा। इसके अलावा आपकी अच्छी टिप्पणी को पढ़कर अन्य पाठक भी आपके ब्लॉग तक पहुंचते हैं। तो अगर आप टिप्पणियां देने के मामले में सुस्त हैं तो आज से ही अच्छी पोस्ट पर ईमानदार टिप्पणियां देने का सिलसिला शुरू कर दीजिए। कहते हैं ना कि आप अच्छे वक्ता तभी बन सकते हैं, जब आप अच्छे श्रोता हों। इसीलिए आप ब्लॉग के अच्छे लेखक तभी बन सकते हैं, जब आप अच्छे पाठक भी हों। तो सबको बताइए कि आप अच्छे पाठक हैं। और इसे जताने का टिप्पणी से अच्छा तरीका और क्या हो सकता है।

इसके अलावा अगर किसी ब्लॉग पर शीर्ष टिप्पणीकार और ताजा टिप्पणियों वाला विजेट लगा हो, तो आप उसमें शामिल होकर भी सबको नजर आ सकते हैं।

अगली पोस्ट में आपको वेबमास्टर के जरिए सर्च इंजनों में ऊपर पहुंचने का तरीका सिखाया जाएगा।

क्रमशः
ब्लॉग पर ट्रेफिक बढ़ाएं-4
ब्लॉग पर ट्रेफिक बढ़ाएं-5


हिन्दी ब्लॉग टिप्स की हर नई जानकारी अपने मेल-बॉक्स में मुफ्त मंगाइए!!!!!!!!!!

क्या आपको यह लेख पसंद आया? अगर हां, तो ...इस ब्लॉग के प्रशंसक बनिए ना !!

Saturday, November 29

ऐसा था hotel Taj !

Taj logo
58 घंटे तक शर्मनाक और दरिंदगी भरी आतंककारी गतिविधियों को अपने सीने पर झेलने वाले होटल ताज के आंसू भी आम देशवासी की तरह ही नहीं थम रहे हैं। भले ही उसे आतंककारियों से मुक्त करा लिया गया हो, लेकिन वह अब भी खून के आंसू रो रहा है। आज सुबह टेलीविजन पर जब उसके ग्राउंड और फर्स्ट फ्लोर की नौ-दस खिड़कियों से आग की लपटें उठती देखीं तो कौतुहल जगा कि आखिर यह होटल अंदर से कैसा दिखता होगा। इंटरनेट पर खंगाला को होटल ताज की वेबसाइट पर इसके वर्चुअल टुअर (वीडियो) की सुविधा दिखी।

वीडियो देखा तो लगा कि मैं इस होटल के अंदर ही खड़ा हूं। आप भी देखिए कि यह होटल अंदर से कैसा दिखता था (पता नहीं अभी कैसा होगा??), इस उम्मीद के साथ कि यह होटल जल्द ही अपनी पुरानी शान पा लेगा और दुनिया को दिखा देगा कि लाख चाहकर भी आतंककारी इसका सिर एक इंच भी नहीं झुका पाए हैं।

ताज होटल की शान का वीडियो देखने के लिए यहां क्लिक करें-

virtual tour of Taj

यहां पर आप इस होटल के रेस्टोरेंट, बार, सुइट, रूम्स, बाथरूम आदि सभी सुविधाओं को देख सकते हैं।

काश पिछले 59 घंटों को हिंदुस्तान के इतिहास से मिटा दिया जा सकता!!!!!

क्या आपको यह लेख पसंद आया? अगर हां, तो ...इस ब्लॉग के प्रशंसक बनिए ना !!

हिन्दी ब्लॉग टिप्स की हर नई जानकारी अपने मेल-बॉक्स में मुफ्त मंगाइए!!!!!!!!!!

Thursday, November 27

ब्लॉग पर traffic बढ़ाएं-2

इस सिरीज की पिछली कड़ी में आपको अपने ब्लॉग पर पाठकों की हलचल बढ़ाने के चार तरीके सुझाए गए थे। अगर आपने वह पोस्ट नहीं पढ़ी है तो यहां देखिए। इसके बाद आपके लिए प्रस्तुत है, तरीका नं. 5 और 6..

5. अपने ब्लॉग रोल में अच्छे ब्लॉग्स को जगह दें

blog list ब्लॉग पर ब्लॉग रोल काफी अहम चीज है। साइडबार में उन ब्लॉग्स की लिस्ट, जिन्हें आप रोजाना पढ़ते हैं और उनकी हर हलचल से खुद को और अपने पाठकों को वाकिफ रखना चाहते हैं। कई बार आपके ब्लॉग पर कुछ पाठक सिर्फ इसलिए भी आ सकते हैं, क्योंकि उन्हें आपकी ब्लॉग लिस्ट पसंद है। साथ ही अगर कोई ब्लॉग आपकी लिस्ट में है तो काफी संभावनाएं हैं कि उस ब्लॉग की लिस्ट में भी आपका नाम शामिल हो। तो पाठक पाने का यह तरीका भी तो अपनाइए (वैसे हिन्दी ब्लॉग टिप्स फिलहाल इस सुविधा का इस्तेमाल नहीं कर रहा है)। ब्लॉग लिस्ट जोड़ने का तरीका इस पोस्ट में है- पसंदीदा चिट्ठों की ब्लॉग लिस्ट बनाएं (Video Tutorial)

6. अच्छे ब्लॉग्स के फोलोअर बनें

followersअच्छे ब्लॉग्स के फोलोअर बनने से न केवल आप उनकी अपडेट्स अपने डेशबोर्ड में पा सकते हैं, बल्कि आप उनकी साइडबार में अहम स्थान भी पा सकते हैं। मिसाल देखिए- फिलहाल हिन्दी ब्लॉग टिप्स की फोलोअर लिस्ट में 77 पाठक हैं। आपको अंतिम 18 की तस्वीरें यहां दिख रही होगी (शेष को भी आसानी से देखा जा सकता है)। अब हिन्दी ब्लॉग टिप्स पर आने वाला पाठक इनके प्रोफाइल पर भी क्लिक कर सकता है। उनके ब्लॉग पर जा सकता है। तो है न समझदारी अच्छे ब्लॉग्स का फोलोअर बनने में। फोलोअर बनने का तरीका इस पोस्ट में है- आपके ब्लॉग के Followers (प्रशंसक)

क्रमशः

ब्लॉग पर ट्रेफिक बढ़ाएं-3
ब्लॉग पर ट्रेफिक बढ़ाएं-4
ब्लॉग पर ट्रेफिक बढ़ाएं-5


क्या आपको यह लेख पसंद आया? अगर हां, तो ...इस ब्लॉग के प्रशंसक बनिए ना !!

हिन्दी ब्लॉग टिप्स की हर नई जानकारी अपने मेल-बॉक्स में मुफ्त मंगाइए!!!!!!!!!!

Tuesday, November 25

ब्लॉग पर ट्रेफिक बढ़ाएं-1

कई साथियों के सुझाव पर हिन्दी ब्लॉग टिप्स एक नई सिरीज शुरू कर रहा है- ब्लॉग पर ट्रेफिक कैसे बढ़ाएं। यह सिरीज आपको मेरे अनुभव पर आधारित व्यावहारिक तरीकों का ही सुझाव देगी। यह उन लोगों के लिए तो खास तौर पर उपयोगी है, जिन्होंने ब्लॉग तो बना लिया है, लेकिन उस पर पाठक नहीं आ रहे हैं। तो क्या आप तैयार हैं इस सिरीज के साथ चलने के लिए।

1. अच्छी सामग्री के साथ नियमित लिखें-

आप कहेंगे कि इसमें नया क्या है? यह तो सभी को पता है। लेकिन इसका जिक्र मैं यहां इसलिए कर रहा हूं, क्योंकि ब्लॉग पर किसी विजिटर को एक बार तो किसी भी तरीके से लाया जा सकता है, लेकिन उसे बार-बार लाने के लिए आपको अच्छी सामग्री नियमित रूप से पेश करनी होगी। इस विषय पर अब ज्यादा भाषण नहीं दूंगा। सीधे आइए व्यावहारिक तरीकों पर।

2. हिन्दी संकलकों से जुड़ें

हिन्दी ब्लॉग टिप्स पर आधे से ज्यादा ब्लॉगर्स चिट्ठाजगत, ब्लॉगवाणी और नारद जैसे हिन्दी संकलकों के माध्यम से ही पहुंचते हैं। और दूसरे ब्लॉग्स पर तो यह आंकड़ा 80 फीसदी से ज्यादा है। तो आप समझ ही गए होंगे हिन्दी संकलकों की महत्ता। क्या आपने चैक किया कि आपका ब्लॉग सभी संकलकों पर मौजूद है या नहीं। अगर नहीं है तो आप पांच मिनट से भी कम समय में सभी संकलकों में अपना नाम जोड़ सकते हैं। सभी संकलकों में नाम जोड़ने का आसाना तरीका इस पोस्ट में है- ब्लॉग को हिन्दी संकलकों से जोड़ें

3. प्रमुख सर्च इंजनों से जुड़ें

इंटरनेट पर यूनीकोड के तेजी से विकास के दौर में अब गूगल और याहू जैसे सर्च इंजन भी ब्लॉग्स पर पाठक को तेजी से पहुंचाने लगे हैं। अगर कोई भी पाठक आपके ब्लॉग के टाइटल या यूआरएल को सर्च करे तो वह सबसे ऊपर के नतीजों में शुमार होना चाहिए। ऐसा नहीं है? इसका मतलब आपका ब्लॉग इन सर्च इंजनों में शुमार ही नहीं है। पांच मिनट से भी कम समय में इन्हें प्रमुख सर्च इंजनों में शामिल करने का तरीका सीखिए इस पोस्ट में- सर्च इंजन में ब्लॉग नहीं

4. ई-मेल सब्सक्रिप्शन टूल लगाएं

हिन्दी ब्लॉग टिप्स पर फिलहाल 75 पाठक ऐसे हैं, जिनके ई-मेल इनबॉक्स में इसकी नई पोस्ट स्वतः ही पहुंच जाती है। ये कहलाते हैं loyal readers और किसी ब्लॉग के लिए यह सबसे बड़ी ताकत है। पाठक आपके ब्लॉग को सब्स्क्राइब इसी वजह से करते हैं, जिससे हर नई पोस्ट उनके ई-मेल पते में आ जाए और वे कहीं उससे वंचित न रह जाए। कई पाठक आपके ब्लॉग को भी पसंद करते हैं और अपने मेल पते में उसे पाना चाहते हैं। इसलिए आप फीडबर्नर ई-मेल सब्सक्रिप्शन फार्म को अपने ब्लॉग के साथ जरूर जोड़ें। इसमें भी बस पांच मिनट लगेंगे। तरीका इस पोस्ट में है- फीडबर्नर सब्सक्रिप्शन टूल लगाएं

क्रमशः

ब्लॉग पर ट्रेफिक बढ़ाएं-2
ब्लॉग पर ट्रेफिक बढ़ाएं-3
ब्लॉग पर ट्रेफिक बढ़ाएं-4
ब्लॉग पर ट्रेफिक बढ़ाएं-5


क्या आपको यह लेख पसंद आया? अगर हां, तो ...इस ब्लॉग के प्रशंसक बनिए ना !!

हिन्दी ब्लॉग टिप्स की हर नई जानकारी अपने मेल-बॉक्स में मुफ्त मंगाइए!!!!!!!!!!

Saturday, November 22

ब्लॉग का पासपोर्ट साइज फोटो


जैसे आप अपनी पहचान के लिए पासपोर्ट साइज का फोटो काम में लेते हैं, उसी तरह ब्लॉग का भी फोटो खिंच जाए तो कितना अच्छा होगा? इसे snapshot कहा जाता है। हिन्दी ब्लॉग टिप्स की पासपोर्ट साइज की फोटो आप यहां देख सकते हैं। यह मैंने बस एक बटन पर क्लिक कर बनाया है। आप भी अपने ब्लॉग या किसी दूसरे ब्लॉग (या वेबसाइट) का इसी तरह का स्नेपशॉट बना सकते हैं,ताकि अपनी पोस्ट में उनके संदर्भ के साथ उनकी छोटी सी तस्वीर भी डाल सकें। इसके बाद इसे सेव कर किसी भी रूप में इस्तेमाल कर सकते हैं (साभारः वेबस्नेपर डॉट कॉम)। क्या आप इस विजेट को देखना चाहते हैं?




यहां बक्से में किसी भी ब्लॉग या वेबसाइट का पता भरिए। और उसके बाद क्लिक कर दीजिए (अगर आपने पॉप-अप विंडो ब्लॉक की हैं तो कृपया उसे चालू कर दीजिए)।

नोटः- अगर आपको यह संदेश दिख रहा है- Thumbnail has been queued .. तो उस पेज को एक या दो बार रिफ्रेश कर लीजिए। थोड़ी ही देर में थंबनेल या स्नेपशॉट आपके सामने होगा।

उम्मीद है कि यह विजेट आपको पसंद आया होगा। अगर आप इसे अपने ब्लॉग की साइडबार में लगाना चाहते हैं तो नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कीजिए।


अगर किसी ब्लॉग (वर्डप्रेस या अन्य) के लिए यह बटन काम नहीं कर रहा तो आप नीचे दिए गए कोड को सीधे ही काम ले सकते हैं-

<iframe scrolling="no" frameborder="0" width="100%" src="http://blogsnapr.blogspot.com/" height="110 px"></iframe>


क्या आपको यह लेख पसंद आया? अगर हां, तो ...इस ब्लॉग के प्रशंसक बनिए ना !!

हिन्दी ब्लॉग टिप्स की हर नई जानकारी अपने मेल-बॉक्स में मुफ्त मंगाइए!!!!!!!!!!