Thursday, July 31

नई विंडो में लिंक खोलें

अगर आप ब्लॉगर पोस्ट के दौरान हायपरलिंक का इस्तेमाल करते हैं तो इस चीज से परेशान होंगे कि इसके सभी लिंक उसी विंडो में खुलते हैं। यानी आपके ब्लॉग का पाठक अगर किसी एक्सटर्नल लिंक पर क्लिक करेगा, तो उस विंडो में आपके ब्लॉग की जगह दूसरा लिंक लोड होगा। इस तरह से आपका पाठक आपके ब्लॉग से दूर हो जाता है। क्यों न ऐसा तरीका लगाया जाए कि एक्सटर्नल लिंक नई पॉप-अप विंडो में खुले। इससे आपके ब्लॉग का पाठक उस एक्सटर्नल लिंक को भी विजिट कर लेगा और आपका ब्लॉग भी उसके पास खुला रहेगा।

आसान शब्दों में इसे यूं समझिए-

नमूना-1 हिन्दी सर्च इंजन के लिए हिन्दी स्टोर की मदद ली जा सकती है।

नमूना-2 हिन्दी सर्च इंजन के लिए हिन्दी स्टोर की मदद ली जा सकती है।

दोनों जगह दिए गए हिन्दी स्टोर पर क्लिक कर देखिए। क्या अंतर देख रहे हैं? निश्चित तौर पर आप चाहेंगे कि आपके लिंक नमूना-2 की तरह हों।

आइए सीखते हैं ऐसा करने का आसान तरीका-

1. हायपरलिंक इंसर्ट कीजिए। (तरीका इस पोस्ट में बताया गया है।)

2. कोड में नीचे बताई गई जगह पर पेस्ट कर दीजिए target="_blank"


के स्थान पर



इस परिवर्तन के बाद आपका हर लिंक एक नई विंडो में ही खुलेगा।

पोस्ट में लिंक जोड़ें

ब्लॉगर की पोस्ट के साथ हायपरलिंक जोड़ने की सुविधा है, लेकिन ज्यादातर हिन्दी ब्लॉगर इसका इस्तेमाल नहीं करते। हायपरलिंक की मदद से आप आसानी से पाठकों को अपनी पसंद के दूसरे पेज पर रिडायरेक्ट कर सकते हैं। और आसान बनाने के लिए इसे यूं समझाया जा सकता है-

अगर लिखा हो कि हिन्दी स्टोर का पेज देखिए। पाठक समझ ही नहीं पाएंगे कि उन्हें क्या देखना है?

इसी को अगर यूं बताया जाए कि हिन्दी स्टोर का पेज देखिए। अब पाठक इस पर आसानी से क्लिक कर हिन्दी स्टोर वेबसाइट पर पहुंच सकते हैं।

आइए सीखते हैं इस तरह से लिंक बनाने का आसान सा तरीका-

1. नई पोस्ट के लिए बॉक्स खोलिए।

2. अपनी पोस्ट की सामग्री को लिख लीजिए या पेस्ट कर लीजिए।

3. जिस शब्द के साथ हायपरलिंक जोड़ना चाहते हैं उसे सलेक्ट कीजिए।



4. इसके बाद इंसर्ट लिंक पर क्लिक कीजिए। (यह बटन नीचे चित्र में दिखाया गया है)



5. बॉक्स में उस वेबसाइट का यूआरएल यानी पता भर दीजिए, जिस पर आप इसे रिडायरेक्ट करना चाहते हैं।



ऐसा करते ही अपने आप कोड तैयार हो जाएगा और पोस्ट को पब्लिश करते ही वहां लिंक नजर आने लगेगा।



अगली पोस्ट में यह जानकारी कि लिंक को एक नई विंडो में कैसे खोला जाता है?

Wednesday, July 30

चलता-फिरता ब्लॉग रोल

साइडबार में मौजूद सामग्री की लंबाई कई बार इतनी बढ़ जाती है कि उसे देखने के लिए पाठक को लगातार स्क्रॉल करना पड़ता है। अच्छा हो इसे मनचाहे बॉक्स में सीमित कर दी जाए और उस बॉक्स में सामग्री अपने आप चलने लगे। एक छोटे से कोड का इस्तेमाल कर आप साइडबार के किसी खास पेज एलिमेंट की सामग्री को आप चलती-फिरती बना सकते हैं। (यह अच्छा विषय सुझाने के लिए अनुरागजी का आभार)

चलिए जानते हैं यह आसान तरीका-

1. आप अपने ब्लॉग की जिस भी सामग्री को चलता-फिरता बनाना चाहें, उसका कोड कॉपी कर लीजिए। (भले ही यह कोई टैक्स्ट हो या एचटीएमएल या जावास्क्रिप्ट कोड।)

2. इस कोड को नीचे दिए गए कोड में "आपकी चलती फिरती सामग्री" के स्थान पर पेस्ट कर लीजिए।



3. अब इसका इस्तेमाल आप साइडबार में या पोस्ट के बीच में कहीं भी कर सकते हैं। आपका चलता-फिरता ब्लॉग रोल तैयार है।

हिन्दी ब्लॉग टिप्स के पिछले लेखों का मूविंग ब्लॉग रोल यहां देखिए-




अगर आप चाहते हैं कि सामग्री पर माउस लाते ही यह ठहर जाए और माउस हटाते ही फिर से चल पड़े तो इस कोड का ऊपर बताए गए तरीके से इस्तेमाल कीजिए-



माउस के आते ही रुकने वाला हिन्दी ब्लॉग टिप्स का पिछले लेखों का मूविंग ब्लॉग रोल यहां है-





उम्मीद है कि आपको यह चलता-फिरता ब्लॉग रोल पसंद आया होगा।

कमेंट्स लिंक को यूजर फ्रेंडली बनाएं

पोस्ट के आखिर में जब तक एक भी टिप्पणी नहीं होती, लिखा होता है- "0 comments"
अब इसकी क्या जरूरत है? इसकी जगह अगर लिखा होता "सबसे पहली टिप्पणी आप दें!" तो कितना अच्छा होता। पाठक टिप्पणी देने के लिए ज्यादा प्रेरित होते।

हिन्दी ब्लॉग टिप्स ने कमेंट्स लिंक को हिन्दी चिट्ठों के पाठकों के लिए सुविधाजनक बनाने की कोशिश की है।

अगर आपकी पोस्ट पर कोई कमेंट नहीं होगा तो लिखा मिलेगा-
"सबसे पहली टिप्पणी आप दें!"

अगर एक टिप्पणी होगी तो दिखेगा-
"1 पाठक ने टिप्पणी देने के लिए यहां क्लिक किया है। आप भी टिप्पणी दें।"

एक से ज्यादा टिप्पणी होगी तो दिखेगा-
"N पाठकों ने टिप्पणी देने के लिए यहां क्लिक किया है। आप भी टिप्पणी दें।" (जहां N= टिप्पणियों की संख्या)

क्या आप भी यूजर फ्रेंडली कमेंट्स लिंक बनाना चाहते हैं। यदि हां तो इसके लिए आपको ब्लॉगर टेम्पलेट के एचटीएमल कोड में मामूली हेर-फेर करनी होगी। (डरिए नहीं, अगर आप पोस्ट पब्लिश करना जानते हैं तो यह भी आसानी से कर लेंगे।) इसके लिए नीचे दिए गए तरीके को अपनाएं-

1. लेआउट में जाइए।

2. एडिट एचटीएमएल पर क्लिक कीजिए। (एचटीएमएल कोड में परिवर्तन करने से पहले अपनी टेम्पलेट का बैकअप जरूर रखें। इससे आप अपनी मूल टेम्पलेट फिर से पा सकते हैं। टेम्पलेट को डाउनलोड करने का तरीका यहां दिया गया है।)

3. Expand Widget Templates को आवश्यक रूप से टिक कर दीजिए।



4. इस कोड में नीचे दिए गए हिस्से को ढूंढिए। सबसे अच्छा तरीका है Cont + F कुंजियों को दबाइए। एक फाइंड बॉक्स खुलेगा। इसमें नीचे दिए गए कोड के कुछ अंश को को कॉपी कर पेस्ट कर दीजिए। एंटर करते ही आप कोड के इस हिस्से तक पहुंच जाएंगे।

5. यहां आपको इस तरह का कोड दिखेगा-



इसकी जगह ध्यानपूर्वक यह कोड पेस्ट कर दें-



अब इस परिवर्तन को सेव करते ही आपका कमेंट लिंक हिन्दी पाठकों के लिए काफी सुविधाजनक बन गया है।

Tuesday, July 29

स्टाइलिश मोबाइल ब्लॉग बनाएं

हिन्दी ब्लॉग टिप्स का स्टाइलिश मोबाइल ब्लॉग यहां देखें-

http://hinditips.mofuse.mobi
पिछली पोस्ट में आपने मोबाइल ब्लॉग बनाने का आसान सा तरीका सीखा था। यह गूगल रीडर की मदद से बनाया गया था। अगर यह आपको देखने में साधारण लगा हो तो आपके लिए एक स्टाइलिश मोबाइल ब्लॉग सेवा भी उपलब्ध है। यह सेवा उपलब्ध करा रही है मोफ्यूज़ वेबसाइट। इस साइट की मदद से भी आप चुटकियों में अपना मोबाइल ब्लॉग बना सकते हैं। अगर आप कंप्यूटर पर इसका प्रिव्यू देखेंगे तो यह बिल्कुल ऐसा दिखेगा, जैसे ब्लॉग आपके मोबाइल पर खुला हो।

आइए अब जानते हैं इसे बनाने का तरीका-

1. सबसे पहले मोफ्यूज़ साइट पर जाइए और इसमें दिए गए बॉक्स में अपने ब्लॉग का पता भर दीजिए।

2. इसके बाद mobilize बटन पर क्लिक कर दीजिए।



3. अगली विंडो में दिए गए फॉर्म को भरिए।

और हो गया आपका स्टाइलिश मोबाइल ब्लॉग तैयार।



कंप्यूटर पर भी इसका प्रिव्यू आपको मोबाइल की वर्चुअल स्क्रीन में ही नजर आएगा। इसे स्क्रॉल करने के लिए फोन की 2 और 8 कुंजियों की मदद ली जा सकती है। पिछले पन्ने पर जाने के लिए * बटन दबाना होगा।

सबसे खास बात यह कि इसका वेबपता आपको .mobi डोमेन के साथ मिलता है, जो याद रखने में आसान है।

हिन्दी ब्लॉग टिप्स का स्टाइलिश मोबाइल ब्लॉग यहां देखें- http://hinditips.mofuse.mobi

मोबाइल ब्लॉग बनाएं

तकनीकी क्रांति से अब वेब सर्फिंग का मजा मोबाइल फोन पर लिया जा रहा है। यही कारण है कि इन दिनों हर अच्छी वेबसाइट अपना मोबाइल संस्करण भी जारी कर रही है। यह संस्करण काफी जल्दी खुलता है और मोबाइल फोन में पढ़ने में काफी सहज होता है। यह मत समझिए कि हिन्दी ब्लॉग मोबाइल फोन पर नहीं पढ़े जा रहे। रवि रतलामीजी जैसे कितने ही चिट्ठाकार हैं, जिन्होंने अपने ब्लॉग का मोबाइल संस्करण तैयार कर लिया है। तो आप क्यों पीछे रहते हैं। नहीं जी, इसे बनाने में किसी तरह का झंझट नहीं है और पलक झपकते ही तैयार किया जा सकता है। कैसे? आइए जानते हैं आसान सा तरीका-

http://www.google.com/reader/m/view/feed/http://YOURBLOG.blogspot.com/atom.xml


इस पते में YOURBLOG की जगह अपने ब्लॉग का नाम ध्यान से भरें। बधाई.. आपने अपने ब्लॉग का मोबाइल संस्करण तैयार कर लिया है। आप इस पते से अपना मोबाइल ब्लॉग खोल सकते हैं।
हिन्दी ब्लॉग टिप्स के मोबाइल ब्लॉग का पता है-

http://www.google.com/reader/m/view/feed/http://tips-hindi.blogspot.com/atom.xml


अब आपके सामने एक संकट यह हो सकता है कि इतने बड़े पते यानी यूआरएल को याद कैसे रखें। यूआरएल को छोटा करने का आसान सा तरीका है-

टाइनीयूआरएल साइट पर जाइए। बॉक्स में ऊपर दिया गया पता भरिए और आपके मोबाइल ब्लॉग का छोटा सा एड्रेस तैयार।

हिन्दी ब्लॉग टिप्स का टाइनी यूआरएल है-

http://tinyurl.com/5jzoj5

अगली पोस्ट में मोबाइल ब्लॉग बनाने का एक और अच्छा तरीका।

Monday, July 28

प्रोफाइल से अनचाहे ब्लॉग हटाइए

जैसे ही पाठक आपके ब्लॉगर प्रोफाइल को खोलते हैं, तो उन्हें आपकी व्यक्तिगत जानकारी के साथ ही उन सभी ब्लॉग की जानकारी भी मिलती है, जिन्हें आप संचालित कर रहे हैं। हो सकता है कि इनमें कुछ ऐसे ब्लॉग भी हों, जिन्हें आप दूसरे लोगों के साथ शेयर नहीं करना चाहते हों। कुछ ऐसे ब्लॉग भी हो सकते हैं, जिन्हें आपने काफी पहले बनाया हो और अब उनमें कोई पोस्ट नहीं करते। हो सकता है कि ये आपको बचकाने लगते हों। तो ऐसे में अगर इन ब्लॉग्स को दूसरे पाठक देखेंगे तो उनकी निगाहों में आपकी छवि बदल जाएगी। आप इन्हें पूरी तरह से डिलीट करना भी पसंद नहीं करेंगे। ऐसी स्थिति में एक तरीका है, जिससे आपके प्रोफाइल में केवल वही ब्लॉग दिखेंगे, जिन्हें आप दिखाना चाहते हैं। यानी प्रोफाइल में अनचाहे ब्लॉग्स से छुट्टी।
जानते हैं क्या है यह तरीका-

1. ब्लॉगर डैशबोर्ड में जाइए।

2. ऊपर दाहिने कोने में आपको Edit Profile का विकल्प मिलेगा। इस पर क्लिक कीजिए।



3. अगले पेज पर Show my blogs विकल्प को चुनिए और Select blogs to display पर क्लिक कीजिए।



4. यहां आपके सभी ब्लॉग्स की सूची मिलेगी। इनमें से केवल उन्हीं ब्लॉग्स पर टिक कीजिए, जिन्हें आप अपने प्रोफाइल के साथ दिखाना चाहते हैं।




5. सबसे नीचे मौजूद save settings बटन पर क्लिक कीजिए।



इस तरह आपने अपने प्रोफाइल में से अनचाहे ब्लॉग्स को हटा दिया है।

निजी डायरी भी हो सकता है ब्लॉग

बहुत से साथियों को निजी डायरी लिखने का शौक है। वे चाहें तो ब्लॉग का इस्तेमाल निजी डायरी के रूप में भी कर सकते हैं। लेकिन संकोच इस बात का होता है कि ब्लॉग पर अगर निजी बातें लिख दीं तो उन्हें कोई भी पढ़ सकता है। ब्लॉगर ब्लॉग पर यह सुविधा है कि आप चाहें तो आपके ब्लॉग को आपके अलावा कोई और नहीं खोल सकता है। या फिर आपके मनचाहे साथी ही आपका ब्लॉग खोल सकते हैं। इस सुविधा को लागू करना भी एकदम आसान है। आइए जानते हैं कैसे कर सकते हैं ऐसा-

आप ही लिखें, आप ही पढ़ें

1. इसके लिए सबसे पहले ब्लॉग सैटिंग्स में जाएं। इसके बाद परमिशंस पर क्लिक करें। (नीचे चित्र में दिखाए अनुसार)



2. अगर आप ब्लॉग को केवल खुद तक ही सीमित रखना चाहते हैं तो Blog Readers में Only blog authors विकल्प चुनें।



ब्लॉग को सेव कर दें। अब यह ब्लॉग केवल आपके लॉगइन और पासवर्ड की औपचारिकता पूरी होने के बाद ही देखा जा सकेगा। (अगर आपके ब्लॉग के एक से ज्यादा लेखक हैं तो इस विकल्प को चुनने के बाद वे सभी आपके ब्लॉग को देख पाएंगे।)

ब्लॉग को अपने समूह तक सीमित करें

अगर आप चाहते हैं कि आपका ब्लॉग आपका पूरा समूह पढ़ सके। या केवल वे यूजर ही पढ़ सकें, जिन्हें आपने पढ़ने की इजाजत दी हो, तो ऊपर दिखाए गए Blog Readers विकल्प में Only people I choose को चुनें। इसके बॉक्स में आप वे सभी ई-मेल पते भर दें, जिन्हें आप यह ब्लॉग देखने की इजाजत देना चाहते हैं। हर ई-मेल पते के बाद अल्पविराम का प्रयोग अवश्य करें।



सर्च इंजनों की निगाह से बचाएं

अगर आप नहीं चाहते कि कोई भी आपके ब्लॉग को सर्च इंजन के जरिए नहीं खोज पाए, तो आप नीचे दी गई तकनीक अपना सकते हैं।

1. ब्लॉग सैटिंग्स में जाएं। इसके बाद बेसिक पर क्लिक करें। (नीचे चित्र में दिखाए अनुसार)



2. यहां आपको विकल्प मिलेगा- Let search engines find your blog?

अगर आप सर्च इंजनों की निगाह से बचना चाहते हैं तो इसे नो पर सैट कर दें और परिवर्तन को सेव कर दें।



इस तरह आप अपने ब्लॉग के पाठकों पर आसानी से नियंत्रण कर सकते हैं। चाहें तो इसे निजी डायरी भी बना सकते हैं। सबसे खास यह कि इन सुविधाओं को मर्जी के मुताबिक फिर से बदल सकते हैं।

Saturday, July 26

रीसेंट पोस्ट (पिछले लेख) दिखाएं

ब्लॉग पर आपकी पिछली प्रविष्ठियां वैसे तो आरकाइव में नजर आती हैं, लेकिन कई बार इन्हें देख पाना पाठकों के लिए सुविधाजनक नहीं होता। महीने के बदलते ही आरकाइव में पिछले सभी शीर्षक गायब हो जाते हैं और पाठक उन्हें आसानी से तलाश नहीं कर पाते। क्यों न हर पोस्ट के नीचे पिछली पांच पोस्ट पाठक को दिखा दी जाए। ऐसे में पूरी पोस्ट पढ़ने वाले पाठक आसानी से पिछली पांच प्रविष्ठियों के शीर्षक देखकर उन्हें भी पढ़ सकते हैं। हिन्दी ब्लॉग टिप्स पर इन्हें पोस्ट के आखिर में पिछले शीर्षक के साथ लगाया गया है। आइए जानते हैं पिछली पांच पोस्ट दिखाने का आसान सा तरीका-

1. ब्लॉगर के डेश बोर्ड पर जाएं और उसके बाद ले-आउट विकल्प चुनें।

2. एड ए पेज एलिमेंट पर क्लिक करें। एक अलग विंडो खुल जाएगी।

3. इस विंडो पर फीड विकल्प को चुनें।



4. फीड यूआरएल बॉक्स में http://www.YOURBLOG.blogspot.com/atom.xml भरें। (यह आपके ब्लॉग की आरएसएस फीड का पता है).YOURBLOG की जगह अपने ब्लॉग का पता बदलना नहीं भूलें।



5. अगली विंडो के टाइटल बार में पिछले लेख या रीसेंट पोस्ट लिखें।

6. दिखाई जाने वाले लेखों की संख्या चुनें।

7. अगर आप लेख के प्रकाशन की तारीख और लेखक का नाम भी प्रकाशित करना चाहते हैं तो संबंधित विकल्प चुनें।

8. सूचनाओं को सेव कर दें।




अब रीसेंट पोस्ट की सूची आपके ब्लॉग पर लग चुकी है। आप लेआउट में जाकर इसे मनचाहे स्थान पर ड्रेग कर सकते हैं।

Wednesday, July 23

आइए, ब्लॉगिंग शॉर्टकट सीखें

की-बोर्ड पर काम करते समय शॉर्टकट कमांड्स का इस्तेमाल सभी को पसंद आता है। ब्लॉग पर पोस्ट लिखते समय भी कई शॉर्टकट कमांड्स इस्तेमाल किए जा सकते हैं, लेकिन ज्यादातर साथियों को इनकी जानकारी नहीं है। जानते हैं ऐसे ही कुछ कमांड्स के बारे में, जो आपके पोस्ट एडिटर पर काम करते वक्त इस्तेमाल किए जा सकते हैं।

  • control + b = बोल्ड

  • control + i = इटेलिक

  • control + l = ब्लॉककोट या उद्धरण चिन्ह (केवल तभी, जब आपका एडिटर एचटीएमएल मोड में हो)

  • control + z = अनडू

  • control + y = रीडू

  • control + shift + a = लिंक

  • control + shift + p = प्रिव्यू

  • control + d = ड्राफ्ट के रूप में सेव

  • control + p = पोस्ट प्रकाशन

  • control + s = आटोसेव

  • control + g = इंडिक ट्रांसलिटरेशन (केवल तभी, जब आपने यह विकल्प चुना हो)


ये शॉर्टकट कमांड इंटरनेट एक्सप्लोरर 5.5+/विंडोज और मोज़िला परिवार (1.6+ और फायरफॉक्स 0.9+) के साथ ही दूसरे ब्राउजर्स पर भी काम करते हैं।

ई-मेल से करें ब्लॉग अपडेट

सवाल- क्या ऐसा हो सकता है कि एक बार ब्लॉग बना लिया जाए और उसके बाद उसे लॉग-इन किए बगैर अपडेट किया जा सके (क्योंकि मैं अपने कार्यालय में ब्लॉग को अपडेट करने के लिए ब्लॉगर वेबसाइट पर नहीं जाना चाहता)।

जवाब- जी हां, ऐसा बिल्कुल संभव है। साधारण सी ई-मेल आपकी पोस्ट को मनचाहे तरीके से पब्लिश कर सकती है। इसके लिए आपको अपने ई-मेल आई-डी से अपने ब्लॉग को जोड़ना होगा। आइए, सीखते हैं यह आसान सी तकनीक-

1. ब्लॉग की सैटिंग्स में जाएं।

2. उसके बाद ई-मेल टैब पर क्लिक करें।



3.यहां आपको विकल्प मिलेगा- Mail-to-Blogger Address

4. इस विकल्प के बॉक्स में आप मनचाहा शब्द भर लें। इससे आपका पोस्ट पब्लिशिंग आईडी कुछ इस तरह होगा-
आपके ब्लॉग का आईडी डॉट आपका मनचाहा शब्द @ ब्लॉगर डॉट कॉम



5. अगर आप इस आईडी पर भेजी गई मेल को सीधे ही पब्लिश करना चाहते हैं तो इस विकल्प को चुनें- Publish emails immediately




6. अगर आप इस आईडी पर भेजी गई मेल को ड्राफ्ट के रूप में सेव करना चाहते हैं तो यह विकल्प चुनें- Save emails as draft posts



7. सेव सैटिंग्स पर क्लिक करें।



अब आप जैसे ही ऊपर बनाए गए आईडी पर ई-मेल भेजेंगे तो वह पोस्ट सीधे आपके ब्लॉग पर प्रकाशित हो जाएगी। सब्जेक्ट लाइन में लिखे गए शब्द शीर्षक बनेंगे, और मेल की बॉडी आपकी पोस्ट की बॉडी में तब्दील हो जाएगी। सबसे अच्छी बात यह है कि आप 10 MB तक तस्वीरें भी इसी तरह मेल के जरिए ब्लॉग पर प्रकाशित कर सकते हैं।

Saturday, July 19

"लेख मित्र को ई-मेल करें" लिंक लगाएं

ब्लॉग की पहुंच बढ़ाने का एक और अच्छा तरीका। अपनी हर पोस्ट के साथ लेख ई-मेल करें लिंक लगाइए। किसी पाठक को आपकी पोस्ट पसंद आने पर वह उसे इस लिंक पर एक क्लिक की मदद से अपने मित्र को ई-मेल कर सकता है। हिन्दी ब्लॉग टिप्स पर यह लिंक हर पोस्ट के नीचे लगा है।

वैसे तो यह सुविधा ब्लॉगर ब्लॉग पर उपलब्ध है, लेकिन अधिकांश ब्लॉगर इसे एक्टीवेट नहीं करते। दूसरी बात यह कि एक्टीवेट करने के बावजूद इसका डिफाल्ट आइकन इतना साधारण और छोटा है कि इस पर ज्यादा लोगों का ध्यान नहीं जाता। हिन्दी ब्लॉग टिप्स ने इस आइकन को नई तरह पेश करने की कोशिश की है। आप भी इस लिंक को अपने ब्लॉग पर लगा सकते हैं। इसके लिए नीचे दिए गए निर्देशों पर अमल करते जाइए।

सबसे पहले इसे एक्टिवेट करने का तरीका-

1. ब्लॉग की सैटिंग्स में जाएं।



2. सबसे पहले टैब यानी बेसिक में आपको विकल्प मिलेगा- Show Email Post links?

3. इसे यस पर सैट कर दें।



बधाई, आपने पोस्ट ई-मेल लिंक को एक्टिवेट कर दिया है। अब आपके ब्लॉग पर हर पोस्ट के नीचे एक छोटा सा ई-मेल पोस्ट आइकन दिखाई देगा। इस पर क्लिक करने से आपकी पोस्ट मनचाहे ई-मेल आईडी पर भेजी जा सकती है।

अब सीखते हैं आइकन बदलने का तरीका-

1. लेआउट में जाइए।

2. एडिट एचटीएमएल पर क्लिक कीजिए। (एचटीएमएल कोड में परिवर्तन करने से पहले अपनी टेम्पलेट का बैकअप जरूर रखें। इससे आप अपनी मूल टेम्पलेट फिर से पा सकते हैं। टेम्पलेट को डाउनलोड करने का तरीका यहां दिया गया है।)

3. Expand Widget Templates को आवश्यक रूप से टिक कर दीजिए।



4. इस कोड में ‘http://www.blogger.com/img/icon18_email.gif' ढूंढ़िए। सबसे अच्छा तरीका है Cont + F कुंजियों को दबाइए। एक फाइंड बॉक्स खुलेगा। इसमें ‘http://www.blogger.com/img/icon18_email.gif' को कॉपी कर पेस्ट कर दीजिए। एंटर करते ही आप इस यूआरएल तक पहुंच जाएंगे

5. इस यूआरएल की जगह आप ‘http://hindi.store.googlepages.com/e-mail_link.bmp’ को पेस्ट कर दीजिए।



6. परिवर्तन को सेव करते ही आपके ब्लॉग पर वैसा ही आइकन नजर आने लगेगा, जैसा हिन्दी ब्लॉग टिप्स पर है।

रीसेंट कमेंट विजेट हिन्दी में

रीसेंट कमेंट विजेट को कस्टमाइज कीजिए

http://
(जैसे: "yourblog.blogspot.com" या "www.yourblog.com")

करेक्टर तक


           




पिछली पोस्ट में जिस रीसेंट कमेंट विजेट की जानकारी दी गई थी, वह अंग्रेजी में था और परिणाम भी अंग्रेजी में ही दिखाता था। हिन्दी ब्लॉगर्स की सुविधा के लिए हिन्दी ब्लॉग टिप्स ने हिन्दी में विजेट तैयार करने का काम शुरू किया है। शुरुआत रीसेंट कमेंट विजेट से जो पूरी तरह से हिन्दी में है और परिणाम भी यथासंभव देवनागरी में ही दिखाता है। आप आसानी से इसे अपने ब्लॉग पर लगा सकते हैं।

1. मौजूद फॉर्म में आवश्यक पूर्तियां कीजिए।

2. लागू करें पर क्लिक करने के बाद विजेट आपके ब्लॉग पर ले जाएं पर क्लिक कीजिए।

3. ब्लॉगर अकाउंट में साइन इन कीजिए।

4. वह ब्लॉग चुनिए जिस पर आपको यह विजेट लगाना है।

5. सेव कीजिए।

अब यह विजेट आपके ब्लॉग पर लग चुका है। हिन्दी ब्लॉग टिप्स पर आपको यह विजेट साइडबार में नजर आ रहा होगा।

आपको यह विजेट कैसा लगा? बताइए जरूर..

Thursday, July 17

रीसेंट कमेंट विजेट लगाइए

अपडेट- रीसेंट कमेंट विजेट के हिन्दी संस्करण के लिए यहां क्लिक कीजिए।

हिन्दी ब्लॉग जगत में टिप्पणियों का बड़ा महत्व है। गूगल एडसेंस के रूठ जाने के बाद केवल टिप्पणियां ही हैं, जो हिन्दी ब्लॉगर्स का मनोबल बढ़ाकर उन्हें हर दिन पोस्ट लिखने को प्रेरित करती हैं। ज्यादातर ब्लॉगर्स के लिए टिप्पणियों से मिलने वाला प्रोत्साहन धन से कहीं बढ़कर है। तो क्यों न अपने ब्लॉग की टिप्पणियों और उन्हें लिखने वाले लोगों को नए तरीके से पाठकों के सामने लाया जाए।

इसके लिए हाजिर है एक खास रीसेंट कमेंट विजेट। वैसे तो ब्लॉगर पर हालिया टिप्पणियों के लिए एक खास फीड अवेलेबल है, जिसका पता है-

http://yourblogname.blogspot.com/feeds/comments/default

लेकिन इस फीड का उपयोग कर ब्लॉग की साइडबार में हालिया टिप्पणियां लगाना थोड़ा मुश्किल काम है। इसके लिए ब्लॉगरबस्टर साइट पर एक खास विजेट मौजूद है, जिसके जरिए आपके ब्लॉग के रीसेंट कमेंट्स का प्रकाशन एकदम आसान है। जानते हैं इस आसान सी प्रक्रिया को-

1. ब्लॉगबस्टर साइट के इस पेज पर जाइए।

2. विजेट के लिए मौजूद फॉर्म में आवश्यक पूर्तियां कीजिए।



3. अप्लाई पर क्लिक करने के बाद एड विजेट टू माय ब्लॉग पर क्लिक कीजिए।

4. ब्लॉगर अकाउंट में साइन इन कीजिए।

5. वह ब्लॉग चुनिए जिस पर आपको यह विजेट लगाना है।

6. सेव कीजिए।

अब यह विजेट आपके ब्लॉग पर लग चुका है। हिन्दी ब्लॉग टिप्स पर आपको यह विजेट साइडबार में नजर आ रहा होगा।

Monday, July 14

ब्लॉग के साथ म्यूजिक

ब्लॉग पर सर्फिंग करते वक्त अगर मनपसंद संगीत सुनाई दे तो क्या कहने! आसान सा तरीका अपनाकर ब्लॉग पर मनचाहा संगीत जोड़ा जा सकता है। इसमें किसी तकनीकी जानकारी की भी जरूरत नहीं। बस नीचे दिए गए तरीके एक-एक कर अपनाते जाइए और मनचाही साउंड बाइट आपके ब्लॉग पर बजने लगेगी।

1. वह म्यूजिक फाइल या साउंड फाइल अपलोड कीजिए, जिसे आप अपने ब्लॉग के साथ जोडऩा चाहते हैं। अपलोड करने के लिए आप फोरशेयर्ड, एसअपलोड, जेडशेयर या ऐसी ही किसी अन्य साइट की मदद ले सकते हैं। अपलोड करने के बाद इसका वेबपता (यूआरएल) कॉपी कर लीजिए (अगर आप इंटरनेट पर पहले से मौजूद किसी फाइल का इस्तेमाल करना चाहते हैं तो उसका वेबपता (यूआरएल) कॉपी कर लीजिए)।

2. अगर आप चाहते हैं कि यह फाइल तभी बजे, जब रीडर इसके टैक्स्ट लिंक पर क्लिक करे तो नीचे दिए गए कोड का इस्तेमाल करें।



यहां "म्यूजिक फाइल का URL" की जगह वह यूआरएल पेस्ट कर दें जिसे आपने स्टेप-1 में कॉपी किया था।

3. इस कोड को पोस्ट में या साइडबार में इस्तेमाल कीजिए। इस कोड को अगर आप पोस्ट के मैटर के साथ पेस्ट करेंगे तो यह पोस्ट के पेज पर नजर आएगा। अगर आप इसे साइडबार में पेस्ट करेंगे तो यह ब्लॉग के हर पेज पर दिखाई देगा।

4. अगर आप इस म्यूजिक फाइल के साथ कंसोल भी चाहते हैं तो नीचे दिए गए कोड का इस्तेमाल करें। (कंसोल नीचे दिखाया गया है।) इस कोड का प्रयोग भी ऊपर बताए गए तरीके से पोस्ट में या साइडबार में किया जा सकता है।





5. अगर आप चाहते हैं कि आपके ब्लॉग का पेज लोड होते ही संगीत बजने लगे तो नीचे दिए गए कोड का इस्तेमाल करें।




उम्मीद है कि आपके ब्लॉग पर अब साउंड फाइल काम करने लगेगी।

नोट: हर कोड में म्यूजिक फाइल का URL बदलना नहीं भूलें

Friday, July 11

इच्छानुसार रखें प्रविष्ठियों की संख्या

कई पाठकों की मांग पर यहां ब्लॉगर ब्लॉग में मौजूद सुविधाओं को सहज तरीके से पेश किया जा रहा है। फिलहाल सीखते हैं वह नुस्खा, जिससे ब्लॉग के एक पेज पर पोस्ट की संख्या को मनचाहे तरीके से नियंत्रित किया जा सकता है।

आप देख रहे होंगे कि हिन्दी ब्लॉग टिप्स के एक पेज पर एक ही पोस्ट नजर आती है। नए ब्लॉगर ब्लॉग पर आपको एक पेज पर सात पोस्ट दिखाई देती हैं। अगर आपकी पोस्ट आकार में बड़ी है तो पाठकों के लिए असुविधाजनक होता है कि एक पेज पर ही एक से ज्यादा पोस्ट पढ़ सकें। इसलिए ब्लॉगर यूजर्स के पास एक विकल्प मौजूद है, जिसकी मदद से वे एक पेज पर पोस्ट की संख्या को नियंत्रित कर सकते हैं।

1. अपने ब्लॉग के डैशबोर्ड में जाइए और ब्लॉग पर क्लिक कीजिए।

2. सैटिंग्स पर क्लिक कीजिए।

3. फॉर्मेटिंग विकल्प चुनिए।

4. सबसे ऊपर मौजूद विकल्प शो में पोस्ट की संख्या मनचाहे तरीके से भर दीजिए।



5. परिवर्तन को सेव कर दीजिए।



अब आपको अपने ब्लॉग के हर पेज पर उतनी ही पोस्ट नजर आएंगी, जितनी आपने चुनी हैं।

Saturday, July 5

ब्लॉग का प्रचार करें- इंडियन सोशल बुकमार्किंग

सोशल बुकमार्किंग का अर्थ है, इंटरनेट पर मौजूद सामग्री को पाठक समूह द्वारा दूसरे पाठकों के लिए रेटिंग देना और उन्हें उस सामग्री को पढ़ने के लिए प्रोत्साहित करना। यह एक तरह की वोटिंग है। इसे किसी ब्लॉग पोस्ट को पाठकों द्वारा की गई वोटिंग से समझा जा सकता है। पाठकों को जो पोस्ट पसंद आती हैं, वे उसे वोट देते हैं और वे पोस्ट सोशल बुकमार्किंग साइट्स पर पहुंच जाती हैं। जिस पोस्ट को जितने ज्यादा वोट मिलते हैं, पोस्ट उतनी ही ऊपर होती जाती है। इस तरह किसी ब्लॉग के क्वालिटी कंटेंट को ज्यादा पाठक मिलते जाते हैं। तो इस बुकमार्किंग के जरिए किसी ब्लॉग का प्रचार किया जा सकता है। जानते हैं हिन्दी ब्लॉग के लिए इंडियन सोशल बुकमार्किंग विजेट लगाने का तरीका- (यह विजेट इस पोस्ट के सबसे अंत में प्रचार करें के रूप में देखा जा सकता है।)

1. प्रचारदिस पर जाएं और पंजीयन करें।

2. भाषा के विकल्प में अपने ब्लॉग की भाषा चुनें।

3. ब्लॉगर ब्लॉग या अन्य विकल्प का कोड कॉपी कर लें।

4. अपने ब्लॉग के डेशबोर्ड में जाएं।

5. लेआउट पर जाएं।

6. एड ए पेज एलिमेंट पर क्लिक करें।

7. जावास्क्रिप्ट/एचटीएमएल विकल्प चुनें।

8. टाइटल खाली छोड़ दें और नीचे बॉक्स में कॉपी किया गया कोड पेस्ट कर दें।

9. परिवर्तन को सेव कर दें।

आपके ब्लॉग पर यह विजेट लग चुका है। हिन्दी सोशल बुकमार्किंग के लिहाज से यह साइट ठीक है। अगर आप अंग्रेजी विजेट यूज करना चाहते हैं तो सबसे अच्छा विजेट एडदिस पर उपलब्ध है।