Posts

Showing posts from March, 2010

क्या ब्लॉगर हिन्दी चिट्ठों को मिटा रहा है?

Image
पिछले कुछ दिन से कई साथी यह सवाल मुझसे फ़ोन पर व ई-मेल के जरिए पूछ चुके हैं। उनका कहना है कि उन्हें कुछ साथियों की यह मेल मिली है कि जल्द से जल्द अपने चिट्ठों बैकअप ले लीजिए, क्योंकि ब्लॉगर अपनी सेवाएं समेटने की तैयारी में है। मैं ऐसे साथियों को यही कहना चाहता हूं कि ब्लॉगर का ऐसा इरादा कतई नहीं है। वह तो दिन-ब-दिन अपनी सेवाओं में विस्तार कर रहा है।

अपने ब्लॉग का नियमित रूप से बैकअप लेना समझदारी भरा कदम है, लेकिन ऐसा इस आशंका के साथ नहीं किया जाना चाहिए कि ब्लॉगर आपके ब्लॉग को मिटा सकता है। ब्लॉगर स्वचलित तौर पर उन्हीं चिट्ठों को मिटाता है, जो उसकी सेवा शर्तों का उल्लंघन करते हैं। ब्लॉगर समय-समय पर अपनी सेवा शर्तों में बदलाव करता है और ताजा नियम-शर्तें यहां पढ़ी जा सकती हैं। साथ ही ब्लॉगर के डिजिटल मिलेनियम कॉपीराइट एक्ट (DMCA) की जानकारी यहां से ली जा सकती है।

करीब डेढ़ महीने पहले ब्लॉगर ने अपने आधिकारिक ब्लॉग पर एक पोस्ट लिखी थी, जिसमें उसने इसी तरह की आशंका का समाधान किया था। इस पोस्ट में नियम व शर्तों के उल्लंघन की ही बात की गई थी।

इसलिए मेरा सुझाव है कि आप इस आशंका को पूरी तरह दूर …

Followers